CSC Tender 3.0 New Update Digital Seva Service Provider Vle Charge

CSC Tender 3.0 New Update Digital Seva Service Provider Vle Charge

CSC Tender 3.0 New Update Digital Seva Service Provider Vle Charge जैसे की आप सभी जानते हैं| सीएसी के 2.0 के मंधायम से सीएसी डिस्ट्रिक्ट मनेजर की नियुक्ति की गई थी वीएलई को हेल्प करने के लिए

और अभी तक उसी के अनुशार काम चल रहा था| और अब सीएसी ने अपडेट कर CSC Tender 3.0 लाया हैं| इस टेंडर के अनुशार दो सर्विस प्रोप्रोवाईडर की नियुक्ति की जायेगी लेकिन इसका प्रोसेस कुछ अलग होंगा| Vle Code

जिसके कारण विएलई पर इसका सीधा प्रभाव सकता हैं| इसलिए समझना बहुत जरुरी हैं| की CSC Tender 30:0 क्या हैं और एक विएलई पर इसका क्या असर पड़ेगा| CSC Tender 3.0 New Update Digital Seva Service Provider Vle Charge

औरइसके अतिरिक्त  डिस्ट्रिक्ट मनेजर पर इसका क्या इसका प्रभाव पड़ सकता हैं| इस अपडेट के आने से CSC Vle Career में बहुत बड़ा बदलाव हो सकता हैं| यह तो संभव हैं|CSC Tender 30:0 के  आने से जनता को सुबिधा के साथ सीएसी को फयदा होनेवाला हैं|

सीएसी विएलई को कुछ हद तक नुकशान होगा|और अगर आप नया सीएसी आईडी लेना चाहते हैं| तो इस लेख को पढ़े क्योकि इसके पहले के नियम के अनुशार आईडी नहीं प्राप्त कर सकेंगे|  कुछ चार्ज देने के बाद ही आप ले सकेंगे जानने के लिए लेख को पढ़े| इसमें सभी जानकारी दी गई हैं| CSC Tender 3.0 New Update Digital Seva Service Provider

 CSC Tender 30:0 And 2.0

सभी विएलई जानते हैं| 2.0 के अंतर्गत सीएसी डिस्ट्रिक्ट की न्युक्ति मनेजेर की गई थी विएलई को हेल्प करने और सर्विसेज को समझाने के लिए उसके अंतर्गत सभी कार्य सम्पूर्ण रूप से काम चल रहा था| CSC Tec

CSC Tender 30:0 क्या हैं? और इसमें क्या बदलाव किया गया हैं| इस बात को समझना बहुत जरुरी हैं| क्योकि नया Service Provider Tender होने से डिस्ट्रिक्ट मनेजर से किसी प्रकार की हेल्प नहीं ले सकेंगे क्योकि पूरा कण्ट्रोल होगा| Service Provider के हाँथ में होगा सीएसी विएलई मंथली कमाई

जो वह चाहेगा| अपने अनुसार काम दे सकता हैं| और न्यू विएलई जिसको बनाना चाहें वह बना सकता है| हालाँकि इसके लिए भी कुछ नियम लगाया गया हैं| उसको भी जानेंगे और विएलई को क्या फायदा और नुकशान होगा वह भी जानेंगे|

यह अपडेट लागू होता हैं| तो विएलई को परेशानी बढ़ सकता हैं| सीएसी द्वारा CSC Tender 30:0 लाने का एक एक ही कारण दिख रहा हैं| की वह अपने कार्य भार किसी अन्य के हाथो में सौप कर किसी Service Provider के रूप में जो टेंडर लेगा|

फिर विएलई को सीएसी डिस्ट्रिक्ट मनेजर या सीएसी टीम की ओर से कोई हेल्प नहीं मिलेगा| जब भी कोई सर्विस आती हैं| वह टेंडर लिए गए सर्विस प्रोवाईडर से संपर्क करना होगा| और जो चार्ज करेंगे वह पे करना पडेगा| सीएसी कैडेट रजिशटेशन इन्फ्रोमेशन

 CSC Tender 3.0 Service Provider कौन होगा 

CSC Tender 3.0 New Update Digital Seva Service Provider Vle Charge

सीएसी हर जिले के लिए टेंडर निकाल रही हैं| जो कोई टेंडर लेता हैं| उसको 20 लाख का खर्चा आयेगा| यह कोंट्राक्ट 3 साल का होगा जिसे  जो वह अपने मन से काम कराएगा उसी का सर्विस प्रोवाईडर नाम दिया गया हैं|

जैसे की सीएसी ने विएलई को किराए पे काम करने के लिए बोल रही हैं| क्या आपलोग इससे सहमत हैं| कमेंट करके जरुर बताएं जो इतना खर्चा करेगा| वह पैसा निकालने के लिए भी तो चार्ज करेगा|

उस सर्विस प्रोवाईडर के अन्दर जिले के सभी विएलई काम करेंगे|और जो विएलई का कमिसन मिलता हैं| उसका कुछ % कट हो जाएगा|

CSC Vle Id Active 30:0 कैसे रखे

विएलई को अपने आईडी को एक्टिव रखने के लिए CSC Renewal करना होगा प्रत्यक वर्ष इसके लिए नियुनतम फी रखी गई हैं| जो विएलई को पे करना पडेगा| सके बाद ही उसका एक्टिव रहेगा| अन्यथा डीऐटीवेट भी हो सकता हैं|

अर्बन और रूरल छेत्रो में अलग अलग फी पे करना पड़ेगा जैसे की चित्र म देख पा रहे होंगे| शहरी के लिए अलग और ग्रामीण छेत्र में चार रहे कॉमन सर्विस सेण्टर के लिए अलग फी हैं| CSC Service list

रूरल – तिन केटेगरी में दिया गया हैं| डिस्ट्रिक्ट, ब्लाक, पंचायत इन स्थानों पर चल रहे कॉमन सर्विस सेण्टर सभी का अलग अलग फी हैं| डिस्ट्रिक्ट लेबल पर- 350 रूपये

ब्लाक लेबल पर – 250 रूपये

पंचायत लेबल पर – 150 रूपये

ठीक इसी प्रकार शहरी छेत्र में चल रहे डिजिटल कॉमन सर्विस सेण्टर संचालक को फी पे करना पडेगा जैस,

डिस्ट्रिक्ट लेबल पर-700  रूपये

ब्लाक लेबल पर – 500  रूपये

पंचायत लेबल पर- 300

हालाँकि जो बताया गया हैं| उससे अधिक चार्ज सर्विस प्रोवाईडर करता हैं| तो उसके खिलाफ सिकयात कर सकते हैं| यह सीएसी द्वारा स्पस्ट रूप से बताया गया हैं|

सीएसी टेंडर नोटिस राज्यवार लिंक 

जिला मैनपुरी CSC Tender 3.0
हरदोई CSC Tender 3.0
गोंडा जिला CSC Tender 3.0
फरुखाबाद CSC Tender 3.0

3.0 CSC Vle Commision

जो आपको कमिसन मिलता था उसका कुछ % उस थर्ट पार्टी को देना होगा जैसे की CSC Tender 3.0 में बताया गया हैं| चयनित प्रदाता के लिए मौजूदा प्रदाता के लिए कम करेगा|

इस बात को समझे इसमें यही बताया हैं| की जो कॉमन सर्विस सेण्टर चल रहे हैं| वह नए बनाये गए Service Provider के तहत काम करेगा जो अपनी कमाई का कुछ पैसे उसको देने पड़ेंगे| यानी जो कमिसन मिलता हैं| उसमे कुछ काट लिया जाएगा|

हालाँकि सभी राज्य में लागू नहीं हैं| लेकिन हो सकता हैं| सभी स्टेट में यह लागू हो सकता हैं| अभी स्पस्ट रूप से नहीं कहाँ जा सकता हैं| विएलई को क्या करना पड़ेगा| परन्तु CSC Tender 3.0 लागू होता हैं| तो इस नियम का पालन करना होगा| जो सीएसी द्वारा गाइड लान किया जाएगा| What is CSC Tender 3.0 New Update Service Provider Digital Seva Portal

CSC New Services 3.0 For Vle

यह नियम लागू होता हैं| तो किसी भी न्यू सर्विस में काम करने के लिए CSC Service Provider ही काम दे सकते हैं| इसके अलावा अन्य कोई नहीं दे सकता हैं| क्योकि इसमें डिस्ट्रिक्ट मनेजर का कोई रोल नहीं रह जाता हैं|

हम पहले की तरह सीएसी डिस्ट्रिक्ट मनेजर या स्टेट हेड से बात नहीं कर पायेंगे| औत बात होती भी हैं| तो कुछ सपोर्ट नहीं मिलेगा| क्योकि सीएसी ने साफ़ तौर पर कांट्रेक्ट पर दे दिया हो तो,

इन Service Provider को पूरी पावर कंट्रोल दे देयेगी जिसके कारण सभी विएलई को सीएसी या टीम की तरफ से कोई हेल्प नहीं मिलेगा| जब भी समस्या या कोई काम पड़ती हैं| तो सर्विस प्रोवाईडर से संपर्क करना होगा| Total CSC Center India

Location of New CSC Centers DSP

CSC Tender 3.0 लागू होता हैं| तो पहले की तरह आईडी के लिए अप्लाई करने से आपको नहीं मिलेगा| नया केंद्र खोले जाने का निर्णय डीजीएस करेगा| वही निर्णय करेगा की किसको आईडी देने की जरुरत हैं|

10 हजार जनसंख्या पर एक सीएसी सेण्टर खोले जायेंगे सो लेने के लिए CSC Service Provider से संपर्क कर सकते हैं| लेकिन कुछ नियम के साथ

सभी सीएसी केंद्र संचालक दिन के 8 घंटे काम करेंगे इसके अतिरिक्त रविवार और अन्य कार्य दिवस पर 4 घंतेकाम करेंगे इस नियम में डीजीएस द्वारा बदलाव किया जा सकता हैं|

Baground Project 3.0

यह अनुरोध फॉर प्रपोजल (RFP) केंद्र द्वारा ई-गवर्नेंस के लिए जारी किया जा रहा है मौजूदा 80,000 (लगभग) आम सेवा केंद्रों के सफल संचालन(CSC) को उत्तर प्रदेश के सभी 75 जिलों में जन सेवा केंद्र के रूप में भी जाना जाता है।

सफल बोलीदाता जिला ई-गवर्नेंस के साथ एक समझौता करेंगे बोली-प्रक्रिया पूरी होने के बाद सोसायटी। सफल बोलीदाता को खोलने के लिए पालन करना होगा जब भी डीजीएस से मंजूरी के बाद नए केंद्रों की आवश्यकता होगी।

आधुनिक प्रशासनिक व्यवस्था अधिक से अधिक सूचना आधारित हो गई है। यह ने पर्यावरण, जिसमें सरकारें, नागरिक और अन्य शामिल हैं, को गहराई से बदल दिया है
संगठन संचालित करते हैं। इसने उस तरह से भी प्रभावित किया है जिस तरह से नई प्रणालियों को किया जा रहा है

बनाया गया है। कॉमन सर्विस सेंटर / जन सुविधा केंद्र सरकार की एक उत्कृष्ट ई-गवर्नेंस पहल है। उत्तर प्रदेश के प्रत्येक जिले में लागू किया जा रहा है स्तर। यह पहल न केवल नागरिकों के अधिकार को एक व्यावहारिक रूप दे रही है

उनके घर के पास सरकारी सेवाएं प्राप्त करें। ये केंद्र नौकरी भी पैदा कर रहे हैं यूपी के जिलों के शिक्षित लेकिन बेरोजगार युवाओं के लिए अवसर। सामान्य सेवा केंद्र एक अद्वितीय सार्वजनिक निजी भागीदारी कार्यक्रम है, जो नागरिकों को ए
किसी भी सरकार में आए बिना सरकार के साथ बातचीत करने का अवसर
कार्यालय।

जन सेवा केंद्रों के लिए अंतिम छोर पर वितरण बिंदु के रूप में कल्पना की गई है सरकार, व्यवसाय और सामाजिक सेवा सभी नागरिकों को।
1 जनवरी 2008 को, कॉमन सर्विस सेंटर / जन सेवा केंद्र> सक्रिय रूप से चल रहे हैं और उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में सरकारी सेवाओं को पहुंचाना। के बजाय CSC Tender 3.0 New Update Digital Seva Service Provider Vle Charge

 

जिला कार्यालय में आने वाले सभी नागरिक अब विभिन्न लाभ उठा सकते हैं निकटतम जन सेवा केंद्र में सरकारी सेवाएं। सेवाओं / जानकारी की तरह भूमि अभिलेख, रोजगार सूचना, जाति, आय और अधिवास प्रमाण पत्र आदि।

240 से अधिक सरकारी सेवाएं अब ऑनलाइन हैं। पारदर्शिता सुनिश्चित करने के लिए, का विवरण विकासात्मक कार्य, उचित मूल्य दुकान डीलरों को राशन आवंटन, ग्राम को भेजा गया धन What is CSC Tender 3.0 New Update Service Provider Digital Seva Portal

सभा आदि लोगों को उपलब्ध कराई जाती है। CSC प्रणाली न केवल नागरिकों को एराजस्व उनकी शिकायत पर प्रगति को ट्रैक करने के लिए, लेकिन जिले को भी प्रदान करता है

विभिन्न विभागों के प्रदर्शन पर नजर रखने के लिए एक प्रभावी उपकरण मजिस्ट्रेट। सीएससी विभिन्न सरकारी योजनाओं, सरकार द्वारा निर्धारित प्रपत्रों, जिले में विकासात्मक कार्यों का विवरण, वृद्धावस्था पेंशन पाने वालों की सूची, सूची छात्रवृत्ति लाभार्थियों, विभिन्न सरकारी योजनाओं में आवंटित धन, आवंट

3.0 का मुख्य उदेश्य

शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के नागरिकों की सुविधा के लिए केंद्र कियोस्क स्थापित करना हैं| जिले भर में। सभी केंद्रों को नियमों और विनियमों के अनूठे सेट के तहत लाने के लिए और डीएसपी की छतरी के नीचे सीएसी सेण्टर को ताकि उन्हें प्रबंधित करें

केंद्र और जिला प्रशासन जिला ई-गवर्नेंस के मालिक समाज। आरोपों के लिए उचित निगरानी तंत्र और विशिष्टता बनाने के लिए नए केंद्र खोलने और मौजूदा केंद्रों का नवीनीकरण, करना

सरकारी सेवाओं को शहरी, अर्ध-शहरी और ग्रामीण तक पहुंचाना केंद्रों के माध्यम से जनसंख्या ताकि उन्हें दृष्टिकोण न करना पड़े जिला कलेक्ट्रेट, तहसील, ब्लॉक और अन्य सरकारी। कार्यालयों। में CSC Tender 3.0 New Update Digital Seva Service Provider Vle Charge

Leave a Comment

error: Content is protected !!